Jump to content
आचार्य विद्यासागर स्वाध्याय नेटवर्क से जुड़ने के लिए +918769567080 इस नंबर पर व्हाट्सएप करें Read more... ×

संयम स्वर्ण महोत्सव

Administrators
  • Content Count

    20,175
  • Joined

  • Last visited

  • Days Won

    325
My Favorite Songs

संयम स्वर्ण महोत्सव last won the day on October 22

संयम स्वर्ण महोत्सव had the most liked content!

Community Reputation

1,734 Excellent

About संयम स्वर्ण महोत्सव

  • Rank
    Advanced Member

Personal Information

  • location
    jaipur

Recent Profile Visitors

The recent visitors block is disabled and is not being shown to other users.

  1. संयम स्वर्ण महोत्सव

    खजुराहो में समाधि संपन्न 

    समाधि संपन्न खजुराहो, पूज्य आचार्य श्री विद्यासागर महाराज ससंघ के सानिध्य एवं निर्देशन में दस प्रतिमाधारी जयसुख भाई वसानी (C.A). मुंबई निवासी की सल्लेखना अनंत चौदस 23/9/18 को सानंद संपन्न हुई | वे ७८ वर्ष के थे | विगत २० वर्षों से व्रती जीवन निर्वाह करते हुए 16 जल उपवास व 6 उपवास (अंत समय बेला)| के साथ यह मृत्यु महोत्सव को उत्साह पूर्वक पूर्ण किया |
  2. 🌈🌈🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🌈🌈🌈 वात्सल्य अंग का प्रभाव आचार्यश्री खजुराहो, 22 सितम्बर दयोदय महासंघ के लोगों ने हमारे सामने एक चित्र रखा था इस चित्र को देख कर हम तो गदगद हो गए। इस चित्र में एक गैया है उसके बड़े बड़े सींग है यह गाय एक घर के सामने कुछ खाने पीने के लिये सीढियों तक चली गई थी। उसी समय उस घर का एक छोटा सा नादान यथाजत बालक आकर उस गाय के दोनो सींग के बीच मे बिना डरे लेट जाता है और गाय भी उसे वात्सल्य देती है। आप लोग इतनी सहजता से वह चित्र देख लेते तो मालूम पड़ जाता कि गोवत्स क्या होता है आप इस चित्र को देख लीजिये ऐसा ही सौहार्दिक प्रेम वात्सल्य सभी साधर्मियों के प्रति हो जाए तो फिर स्वर्ग धरती पर उतर आ जाए यह वात्सल्य अंग का प्रभाव है प्रस्तुति : राजेश जैन भिलाई www.Vidyasagar.Guru 🌈🌈🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🌈🌈🌈
  3. राष्ट्रहित चिंतक आचार्य गुरुवर विद्यासागर जी महाराज के सानिध्य में होगा एक अभूतपूर्व अश्रुतपूर्व कार्यक्रम जरा याद करो कुर्बानी इस कार्यक्रम में अमर बलिदानी शहीद परिवारों के वर्तमान वंशजों को आचार्य गुरुवर विद्यासागर जी महाराज के सानिध्य में "स्वराज सम्मान" से सम्मानित किया जाएगा इस कार्यक्रम में निम्नलिखित शहीद परिवारों ने शामिल होने की स्वीकृति प्रदान की है - राणा प्रताप रानी लक्ष्मी बाई मंगल पांडे नाना साहिब तात्या टोपे बहादुर शाह जफर भगत सिंह चंद्रशेखर आजाद सुखदेव राजगुरु अशफाक उल्ला खान सदाशिवराव मलकापुर कर श्रीकृष्ण सरल सुभाष चंद्र बोस के अंगरक्षक कर्नल मोहम्मद निजामुद्दीन इत्यादि 【21 अक्टूबर 1934- नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने आजाद हिंद फौज की स्थापना सिंगापुर में की थी।】 आजादी मिलने के बाद आजादी के दीवानों का मेला जरा याद करो कुर्बानी 21 अक्टूबर 2018 दिन रविवार दोपहर 1:45 खजुराहो, मध्य प्रदेश | आयोजक - चातुर्मास समिति एवं सकल दिगंबर जैन समाज
  4. संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी के परम शिष्य मुनि श्री 108 संधान सागर जी महाराज खजुराहो में 1008 श्री शांतिनाथ भगवान के चरणों में गुरु आशीष से 36 घंटे के प्रतिमायोग (ध्यान के अभ्यास) में है । मुनि श्री 7 सितंबर को शाम 6:00 बजे से बैठे हैं ।
×