Jump to content
आचार्य विद्यासागर स्वाध्याय नेटवर्क से जुड़ने के लिए +918769567080 इस नंबर पर व्हाट्सएप करें Read more... ×

नवीनतम गतिविधि

This stream auto-updates     

  1. Today
  2. Vijaya Jain

    18 अगस्त 2018 आचार्य विद्यासागर जी प्रवचन

    Namostu Gurudev Aapke charno Mai sat sat Naman .krodh aur maan 4th mark take le jati hai haha high temp.hai aur man lobh 5to7 take low temp.mai Tapman BHI 2prakar Ka ask hi samz Mai aaya.Dhany hai aap
  3. खजुराहो से आचार्य श्री के दर्शन
  4. *‼आहारचर्या‼* ❗ *खजुराहो* ❗ _दिनाँक :२०/०८/१८ *आगम की पर्याय महाश्रमण युगशिरोमणि १०८ आचार्य श्री विद्यासागर जी महामुनिराज* को आहार दान का सौभाग्य *श्रीमान के.सी. जैन छतरपुर एवं उनके परिवार वालो* को प्राप्त हुआ है।_ इनके पूण्य की अनुमोदना करते है। 💐🌸💐🌸 *भक्त के घर भगवान आ गये* *_सूचना प्रदाता-:श्री शांत जी जैन एवं श्री अंकित जी जैन खजुराहो_* 🌷🌷🌷 *अंकुश जैन बहेरिया *प्रशांत जैन सानोधा
  5. *वर्षा योग गौरझामर2018* *आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज* के शिष्य मुनि श्री विमलसागर जी महाराज ,मुनि श्री अनन्तसागर जी महाराज, मुनि श्री धर्मसागर जी महाराज, मुनि श्री अचलसागर जी मुनि श्री अतुलसागर जी मुनि श्री भाव सागरजी *वर्षा योग स्थल*:_श्री 1008 दिगम्बर जैन पारसनाथ बडा मंदिर गौरझामर जिला सागर ,(म.प्र) *संर्पक सूत्र* :दीपक चौधरी 9993259072 प्रतीक जैन 7047327777 हिमांशु जैन 8819955199
  6. सोना जैन बीना जिला सागर
  7. Yesterday
  8. 📣📣📣🇷🇴🇷🇴📣📣📣 *श्रावक संस्कार शिविर का आयोजन* 🔹🔹🔹🔹🔹🔹🔹🔹 *दिनांक 14 सितंबर से 23 सितंबर 2018* 🎪🎪 *सादर आमंत्रण*🎪 *आदरणीय महानुभावो* 🙏 *सादर जय जिनेन्द्र* 🙏 *संत शिरोमणि परम पूज्य आचार्य श्री 108 विधासागर जी महाराज की पावन अनुकम्पा से आस्थावान धर्म नगरी आष्टा में परम पूज्य मुनि श्री 108 प्रशांतसागर जी परम पूज्य मुनि श्री 108 निर्वेगसागर जी परम पूज्य मुनि श्री 108 विशद सागर जी एवम पूज्य क्षुल्लक 105 श्री देवानन्द सागर जी का मंगल चातुर्मास धर्म प्रभावना के साथ चल रहा है* 🇬🇪🇬🇪🇬🇪🇬🇪🇬🇪🇬🇪🇬🇪🇬🇪 *इसी तारतम्य में पर्वाधिराज पर्यूषण पर्व में दिनांक 14 सितंबर से 23 सितंबर 2018 तक दस दिवसीय श्रावक संस्कार शिविर का भव्य आयोजन होने जा रहा है* 👏👏👏👏👏👏👏👏 *कृपया अधिक से अधिक संख्या में भाग लेकर आत्मरंजन , धर्मध्यान के साथ पुण्यार्जन कर इन पर्वराज में सांसारिक बंधनो को छोड़कर अपनी और निहारने का सद्प्रयास कर धर्म लाभ लेंवे* 🌅🌅🌅🌅🌅🌅🌅🌅 🙏 *निवेदक*🙏 *श्री दिगंम्बर जैन पंचायत समिति* *श्री दिगंम्बर जैन मुनि सेवा समिति आष्टा* *शिविर में भाग लेने एवम फार्म भरने हेतु निम्न मोबाइल नंबर पर संपर्क करें* *99819 59529* *98933 82610* 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
  9. *मुनि श्री विमल सागर जी महाराज जीवन दृष्टि* आपका पूर्व नाम रहा है बाल ब्रहमचारी बृजेश जैन जन्म स्थान रहा है बरोदिया जिला सागर{ मध्य प्रदेश} ( बाद में निवास ललितपुर उत्तर प्रदेश रहा ) पिता श्री कपूरचंद जी और माता श्री श्रीमती गोमती बाई की पांचवी संतान के रूप में आपका जन्म मंगलवार 15 अप्रैल 1975 चैत्र बदी 4 विक्रम संवत 2032 को हुआ उन्हें 3 बड़े भाइयों और एक बड़ी बहन तथा छोटी बहन के साथ बचपन किशोरावस्था और युवावस्था तक पहुंचने का प्यार दुलार मिला हायर सेकेंडरी ,शास्त्री (प्रथम वर्ष )तक की शिक्षा प्राप्त की आपने भाग्योदय तीर्थ सागर में 28 अप्रैल 1998 वैशाख शुक्ल 6 को 23 वर्ष की आयु में ब्रह्मचर्य व्रत धारण कर लिया और आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज से 22 अप्रैल 1999 गुरुवार वैशाख शुक्ल 7 को श्री दिगंबर जैन सिद्ध क्षेत्र नेमावर जी मध्य प्रदेश में सीधे मुनि दीक्षा लेकर मुनि श्री विमल सागर जी महाराज बने मुनि श्री विमल सागर जी महाराज ने अनेक मांगलिक कार्य संपन करवाएं जिनमें विधान, वेदी प्रतिष्ठा ,शिलान्यास, पाठशाला ,पंचकल्याणक आदि शामिल है मुनि श्री की प्रेरणा से मंडला ,छपारा, छिंदवाड़ा ,गोटेगांव ,करेली, देवरी, गौरझामर आदि स्थानों पर अभिषेक के दिव्य कलश और शांति धारा की दिव्य झारी का निर्माण हुआ है और पिंडरई ,केवलारी, सिवनी ,चौरई, छिंदवाड़ा, मंडला, घंसौर ,गौरझामर, धनोरा, सिलवानी, बिलहरा आदि स्थानों पर संयम कीर्ति स्तंभ का निर्माण हुआ सन 2009 में बेलखेड़ा मध्य प्रदेश, सन 2012 जबेरा मध्य प्रदेश , सन 2012 बांदकपुर मध्य प्रदेश, इटारसी मध्य प्रदेश, सन 2014 देवरी मध्य प्रदेश, सन 2015 गौरझामर मध्य प्रदेश, झलौन, बिलहरा जिनमें 25000से 40000 की जनता रही है और चार्टर वायु यान के द्वारा पांचो पंचकल्याणक में पुष्प वर्षा हुई आपके चतुर्मास 1999 इंदौर, सन 2000 अमरकंटक , सन 2001 जबलपुर , सन् 2002 नेमावर, सन 2003 अमरकंटक, सन 2004 जबलपुर , सन 2005 बीना बारह , सन 2006अमरकंटक, सन 2007 बीना बारह *यह आचार्य श्री के साथ चातुर्मास हुए इसके बाद* 2008 बेगमगंज, 2009 सागर , 2010 बरेली , 2011 रहली , 2012 शाहपुर, 2013 देवरी, 2014 पनागर , 2015 तेंदूखेड़ा , 2016 मंडला , 2017 छपारा , और *2018 का चतुर्मास गौरझामर मैं चल रहा है* आपके मार्गदर्शन में 50 से भी अधिक स्थानों पर तत्वार्थ सूत्र ,द्रव्य संग्रह, भक्तांमर, रत्नकरंड श्रावकाचार, इष्टोपदेश आदि ग्रंथ ताम्रपत्र पर उत्कीर्ण हुए हैं श्री जी के ऊपर आपको तत्वार्थ सूत्र ,भक्तांमर, सहस्रनाम आदि कंठस्थ है आपको सिद्धांत ,अध्यात्म व्याकरण एवं अनेक विधाओं में महारथ हासिल है आप मुनि श्री सुधासागर जी महाराज के ग्रहस्थ जीवन के मौसी के लड़के है। आपकी ग्रहस्थ जीवन की चचेरी बहन आर्यिका श्री 105 अनुगम मति माताजी हैं -- गुरु चरणााानुरागी -- 🙏भक्त गण🙏
  10. भारत बोलो अन्दोलन *‼आहारचर्या‼* ❗ *खजुराहो* ❗ _दिनाँक :१९/०८/१८ *आगम की पर्याय महाश्रमण युगशिरोमणि १०८ आचार्य श्री विद्यासागर जी महामुनिराज* को आहार दान का सौभाग्य *श्रीमान प्रेमचंद जैन छतरपुर एवं उनके परिवार वालो* को प्राप्त हुआ है।_ इनके पूण्य की अनुमोदना करते है। 💐🌸💐🌸 *भक्त के घर भगवान आ गये* *_सूचना प्रदाता-:श्री शांत जी जैन एवं श्री अंकित जी जैन खजुराहो_* 🌷🌷🌷 *अंकुश जैन बहेरिया *प्रशांत जैन सानोधा
  11. अभिभावकों को अपने बच्चों काअच्छा भविष्य बनाने के लिए लौकिक शिक्षा को गौड़ करते हुऐ उन्हें धार्मिक शिक्षा एवं उत्तम संस्कार देने का प्रयत्न करना चाहिए । जय गुरुदेव
  12. Last week
  13. Durga jain

    18 अगस्त 2018 आचार्य विद्यासागर जी प्रवचन

    नमोस्तु गुरुदेव नमोस्तु गुरुदेव नमोस्तु गुरुदेव
  14. भारत बोलो आंदोलन *‼उपवास संदेश‼* ❗ *खजुराहो* ❗ _दिनाँक :१८/०८/१८ *आगम की पर्याय महाश्रमण युगशिरोमणि १०८ आचार्य श्री विद्यासागर जी महामुनिराज का आज उपवास है।* *_सूचना प्रदाता-:श्री शांत जी जैन एवं श्री विजय जी जैन खजुराहो_* 🌷🌷🌷 *अंकुश जैन बहेरिया *प्रशांत जैन सानोधा
  15. अर्हम मेडिटेशन शिविर हमारे मन में कई बार कई प्रश्न और सकते हैं -दिन भर में क्या होगा,क्या गतिविधियां कराई जाएंगी, हम सवेरे से शाम तक क्या करेंगे। ऐसे अनेक प्रकार के प्रश्न हमारे मन में उठ सकते हैं। सारांश में कहूं तो अर्हम मेडिटेशन शिविर हमारे आत्मा की शक्तियों को जगाने का शिविर है, जिसमें अनेक प्रकार की प्रक्रियाओं के द्वारा हमारी नकारात्मक ऊर्जाओं को बाहर निकाला जाता है। प्रातः कालीन सेशन में योग साधना होगी तत्पश्चात मुनिश्री द्वारा ध्यान कराया जाएगा ।हमारे जीवन में नकारात्मकता को बाहर कैसे निकाला जाए इस पर मुनि श्री द्वारा मार्ग प्रशस्त किया जाएगा। स्वल्पाहार, दिन का भोजन, संध्याकालीन भोजन और इसके बीच बीच में अत्यधिक मनोरंजक प्रक्रियाओं द्वारा हम ज्ञान कैसे अर्जित कर सकते हैं एवं जीवन को सरल एवं सुखी कैसे बना सकते हैं, सिखाया जाएगा। योगनिंद्रा द्वारा गहन विश्राम एवं मुनिश्री द्वारा चार बार ध्यान द्वारा अद्भुत ऊर्जा का संगम देखने को मिलेगा। अंत में इतना ही कहूंगा की विश्राम और ऊर्जा का अद्भुत संगम है अर्हम मेडिटेशन शिविर। VID-20180817-WA0029.mp4
  16. *गौरझामर के इतिहास में प्रथम बार अभिषेक हुआ* *गौरझामर दिनांक 17 अगस्त 2018* * श्री पार्श्वनाथ जी का महामस्तकाभिषेक हुआ* गौरझामर जिला सागर (म.प्र.) में आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के शिष्य मुनि श्री विमल सागर जी मुनि श्री अनंत सागर जी मुनि श्री धर्म सागर जी मुनि श्री अचल सागर जी मुनि श्री अतुल सागर जी मुनि श्री भाव सागर जी महाराज के सानिध्य में श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन बड़ा मंदिर गौरझामर में श्री पार्श्वनाथ भगवान के मोक्ष कल्याणक महोत्सव के अवसर पर मुनि श्री विमल सागर जी ने कहा जो अपने आराध्य के प्रति समर्पित हो जाता है उसकी सभी विघ्न-बाधाएं टल जाती हैं आज दिव्य श्रीफल चढ़ाये जाएंगे आज मैं जिस कलश से अभिषेक कर रहा हूं भगवान आपका अभिषेक स्वर्ण कलश से करूं। एक व्यक्ति ने 4 विशेष दिव्य कलश दान दिए और उसकी मृत्यु हो गई वह यहां नहीं कर पाए अभिषेक तो संभवत: स्वर्ग में अभिषेक कर रहे होंगे आचार्य श्री कहते हैं कि हम दान देने के बाद हर्षित हो यह विशेष पुण्य का अर्जन कराता है कई लोग दान कम देते हैं लेकिन हर्षित बहुत होते हैं कार्यक्रम ब्रह्मचारी रजनीश भैया रहली ने सम्पन्न किया 108 रजत कलशों से अभिषेक हुआ 23 विशेष झारी से शांतिधारा हुई 2 दिव्य झारी से मूलनायक भगवान की शांति धारा हुई 23 रजत श्रीफल चढ़ाये गए दिव्य कलशों से 23 लोगो ने अभिषेक किया एवं निर्वाण लाडू भी चढ़ाये गए मंदिर पंचायत कमेटी अध्यक्ष अरुण जैन घुरा का विशेष सहयोग रहा!!!
  17. *गौरझामर दिनांक 16 अगस्त 2018* *मुनि दीक्षा दिवस मनाया गया* *संयम कीर्ति स्तंभ का हुआ लोकार्पण* गौरझामर जिला सागर (म.प्र.) में आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के शिष्य मुनि श्री विमल सागर जी मुनि श्री अनंत सागर जी मुनि श्री धर्म सागर जी मुनि श्री अचल सागर जी मुनि श्री अतुल सागर जी मुनि श्री भाव सागर जी के सानिध्य में मुनि श्री अचल सागर जी मुनि श्री अतुल सागर जी मुनि श्री भाव सागर जी का 15 वा मुनि दीक्षा दिवस जगाती मैरिज हाल में मनाया गया इस कार्यक्रम में संबोधित करते हुए मुनि श्री विमल सागर जी ने कहा कि आज भी इस काल में मुनिराज अपने व्रतों का पालन कर रहे हैं यह कम नहीं है ऐसा कॉल भी आया कि मुनियों के दर्शन नहीं होते थे सर्वश्रेष्ठ आचरण करने वाले गुरुदेव हमारे सामने विद्यमान हैं कितने पापड़ बेलने पड़ते हैं तब दीक्षा मिलती है मुनि श्री भाव सागर जी ने कहा की आचार्य श्री विद्यासागर जी की महान कृपा है जिससे हमें मुनि पद प्राप्त हुआ है जो पद मोक्ष प्रदान करता है एक पत्थर पर आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज बैठ गए तो लोगों ने लाखों रुपए में मांगा तो भी उस गरीब व्यक्ति ने नहीं दिया उसने पत्थर को घर में रखा और आचार्य श्री की फोटो रख ली जब से घर में वह पत्थर आया है उस ब्यक्ति की हर क्षेत्र में वृद्धि हो रही है हमारे अग्रज मुनिराज मुनि श्री वीर सागर जी महाराज दिल्ली में विराजमान है और उनको भी हम आज नमन करते है आज की तिथि में दीक्षित मुनिराज जो जहां भी रहकर साधना कर रहे हैं उनका स्वास्थ्य ठीक रहे और रत्नत्रय की वृद्धि होती रहे यही हमारी भावना है मुनि श्री अतुल सागर जी ने कहा कि साधक के लिए प्रशंसा सबसे ज्यादा घातक है आप मुझे पंच परमेष्टि में पूज्य मान रहे हैं यह गुरु की कृपा है जो अच्छा है आचार्य भगवान का है जो त्रुटियां है वह मेरी है मुनि श्री अचल सागर जी ने कहा कि हम सभी पुण्यशाली हैं जो आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के द्वारा दीक्षा मिली दीक्षा लेकर आनंद का अनुभव कर रहे हो तो दीक्षा की सार्थकता है दीक्षा लेना सरल भी नहीं है कठिन भी नहीं है हम अपने व्रतों के प्रति कितने सतर्क हैं हमारे अंदर गुरु के प्रति समर्पण होना चाहिए गुरु महाराज जो बोलते हैं वह पत्थर की लकीर होती है दीक्षा देना गुरु के हाथ में है लेकिन गुण स्थान हमारे हाथ में हैं आचार्य श्री कहते हैं कि बुंदेलखंड ही ऐसी धारा है जिसमे श्रावकों के मुनि बनने के भाव होते हैं मुनि श्री विमल सागर जी ने कहा कि सबसे ज्यादा चमत्कारिक दिगंबर मुद्रा है इस कार्यक्रम में मंगलाचरण पाठशाला गौरझामर के बच्चों ने किया चित्र अनावरण मुनिराजों के गृहस्थ के परिवारजनों ने किया दीप प्रज्वलन विशेष अतिथियों ने किया शास्त्र अर्पण नरेश जी (गोपाल एग्रो इंडस्ट्रीज) राजनांदगांव संजय पारस मणि (तेंदूखेड़ा) ने किया पाद प्रक्षालन देवेंद्र जैन जैना स्टील सागर ने किया आचार्य श्री की पूजन पाठशाला के बच्चों ने की संयम कीर्ति स्तंभ का लोकार्पण किया गया जो ब्रह्मचारी भूपेंद्र भैया ललितपुर ब्रह्मचारी रजनीश भैया रहली ब्रह्मचारी अमित भैया ललितपुर आदि ने किया विद्या का सागर कॉमिक्स जिसके लेखक मुनि श्री अजित सागर जी महाराज है इसका विमोचन किया गया जेल में कैदियों के द्वारा बन रही सदभावना राखी का विमोचन किया गया मंच संचालन ब्रह्मचारी रजनीश भैया रहली एवं शुभांशु जी जैन शहपुरा ने किया मंदिर पंचायत कमेठी अध्यक्ष अरुण जैन घुरा का विशेष सहयोग रहा !!!
  18. *देवाधिदेव 1008 पार्श्वनाथ भगवान निर्वाणकल्याण महोत्सव* * 🇭🇰🇭🇰🇭🇰🇭🇰🇭🇰🇭🇰🇭🇰🇭🇰 *दिनांक 17 अगस्त 2018* ⛩⛩⛩🏳‍🌈🏳‍🌈⛩⛩⛩ *आदरणीय महानुभावो* *सादर जय जिनेन्द्र* *श्री दिगंम्बर जैन मंदिर किला आष्टा पर संत शिरोमणि परम पूज्य आचार्य श्री 108 विधासागर जी महाराज श्री के परम प्रभावक शिष्य पूज्य मुनि श्री 108 प्रशांतसागर जी महाराज श्री का ससंघ चातुर्मास धर्म प्रभावना के साथ चल रहा है* 🔹🔹🔹🔹🔹🔹🔹🔹 👏👏👏👏👏👏👏👏 ♦♦♦♦♦♦♦♦ *निर्वाणकल्याणक महोत्सव* 🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈 *दिनांक 17 अगस्त दिन शुक्रवार* *प्रातः 6:45 बजे से 108 रजत एवम स्वर्ण कलशों से मस्तकाभिषेक एवम शांतिधारा* *प्रातः 8:00 बजे निर्वाण लाडू* *प्रातः 8:30 बजे से पूज्य मुनि संघ के मंगल प्रवचन* 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 *कृपया समय पर पधारकर धर्म लाभ लेंवे* 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 *निवेदक* *श्री दिगंम्बर जैन पंचायत समिति* *श्री दिगंम्बर जैन मुनि सेवा समिति आष्टा* 🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈🏳‍🌈
  1. Load more activity
×