Jump to content
मेरे गुरुवर... आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज

संयम स्वर्ण महोत्सव

Administrators
  • Posts

    20,171
  • Joined

  • Last visited

  • Days Won

    588

 Content Type 

Profiles

Forums

Gallery

Downloads

आलेख - Articles

आचार्य श्री विद्यासागर दिगंबर जैन पाठशाला

विचार सूत्र

प्रवचन -आचार्य विद्यासागर जी

भावांजलि - आचार्य विद्यासागर जी

गुरु प्रसंग

मूकमाटी -The Silent Earth

हिन्दी काव्य

आचार्यश्री विद्यासागर पत्राचार पाठ्यक्रम

विशेष पुस्तकें

संयम कीर्ति स्तम्भ

संयम स्वर्ण महोत्सव प्रतियोगिता

ग्रन्थ पद्यानुवाद

विद्या वाणी संकलन - आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के प्रवचन

Blogs

Calendar

Videos

ऑडियो

Quizzes

Store

Posts posted by संयम स्वर्ण महोत्सव

  1. 6 वें मुनिदीक्षा के पावन दिवस पर सभी (24) मुनिराजों के पावन चरणों में कोटि कोटि नमन।

    647286365_(3).thumb.jpeg.e40341ee6da1cd5994bc02a1184c4eee.jpeg

     

    788835613_(2).thumb.jpeg.e1e21545cfd73d6d8f03d95f2cf415bb.jpeg

  2. गुरु पूर्णिमा के पावन अवसर पर आचार्य श्री को मेरा शत शत नमन 

    पंचम काल भी  भाग्य पर अपने ?
                  मन ही मन इतराता है ?
    ब्रहद हिमालय अपनी गोद मैं ?
                पा हर्षित हो जाता है ?
    चट्टानों पर पग रखें तो ?
                 पुष्प वहाँ खिल जाते है ?
    मरुथल मैं विहार करें तो ?
                   नीर कुण्ड मिल जाते है ?
    चरण धूलि जिनकी पाने को ?
                   अम्बर तक झुक जाता हो ?
    सिद्ध शिला पर बैठे प्रभु से ?
                   जिनका सीधा नाता हो ?
    वर्तमान के वर्द्धमान की ?
                   छवि मैं जिनमें पाता हूँ ?
    ऐसे गुरू विद्यासागर को ?
                   अपना शीश नवाता हूँ ?
                                             नमोस्तू भगवन ?

    • Like 4
  3. संयम स्वर्ण महोत्सव
    ???????
    "विद्या दीप"
     आरती नृत्य प्रतियोगिता
    श्रद्धा का थाल सजाउं।
     ज्ञान का दीप जलाउं।।
    जगमग उतारूं थारी आरती।
    ओ गुरुवर हम सब उतारे तेरी आरती।।
    अध्यात्म शिरोमणि, श्रमणों के महाश्रमण भव्यजनो हृदय सम्राट,प्रभु महावीर के लघु नंदन आचार्य भगवन श्री विद्यासागरजी महामुनिराज की (संयम स्वर्ण महोत्सव की समापन बेला में) जैनेश्वरी दीक्षा के ५०वर्ष
    पूर्ण होने के पावन सुअवसर पर पूज्यआर्यिका रत्न श्री पूर्णमति माताजी के मंगल सान्निध्य में राष्ट्र स्तरीय "विद्या दीप आरती नृत्य प्रतियोगिता का भव्य आयोजन
    दिनांक 15 अगस्त 2018 बुधवार
    समय दोपहर 1 बजे
    स्थान: करगुवा जी झांसी
    में आयोजित होने जा रहा हैं।
    प्रतियोगिता निर्णायक:
    सुप्रसिद्ध गायिका साधना  सरगम
                    पुरुष्कार
     प्रथम पुरूष्कार: 
                     100000 रुपए नगद
       द्वितीय पुरस्कार 
                      51000 रुपए नगद तृतीय पुरस्कार 
                    31000रूपये नगद
    ?????????
    पुण्यार्जक:
    श्री अमिताभ राखी जैन(शानू)
    संयम कलेक्शन जबलपुर
    प्रस्तुति के नियम
    ????????
    प्रस्तुती समय सीमा 6 मिनट)
    ?(1) अपनी सहभागिता हेतु अपनी प्रस्तुति का 1 मिनट का वीडियो बनाकर कार्यक्रम संयोजकों के पास दिनांक *7अगस्त 2018
      तक भेजना अनिवार्य होगा। 
    चयनित प्रतियोगियों को WhatsApp नंबर  पर 10 अगस्त 2018 तक  सूचना दी जावेगी।
    ?(2) एकल प्रस्तुति मानय नहीं
                होगी।(2से 8 के ग्रुप ही मान्य
                 होंगे।
          (3) प्रतियोगिता में पुरुष्कार का?? चयन *प्रतियोगी के मंच पर प्रवेश /प्रस्थान, प्रस्तुतीकरण,व् ड्रेसअप एवं समय सीमा को आधार बनाकर निर्णयको द्वारा चयनित किया जावेगा।
     (4) विद्या दीप आरती नृत्य प्रस्तुति में भजन आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज पर, *धार्मिक अथवा राष्ट्रीय  पर आधारित होना चाहिये।
     संपर्क सूत्र?
    (1) दिलीप पहाड़िया   
          9425085674
    (2) नवीन जैन
         9425315844
    (3) विपुल बाँझल
         9425059637
    (4) सोनू जैन
          9694622742
    (5)संजय जैन (पत्रकार)
          9425102308
                      आयोजक
    श्री सकल दि. जैन समाज ,झाँसी

  4. आप अपने शहर में हुए  संयम स्वर्ण महोत्सव के मुख्य कार्यक्रम (१७ जुलाई) की तसवीरें विवरण के साथ अपलोड करने पर जीत सकते हैं आकर्षक उपहार स्वरुप  हथकरघा निर्मित उत्पाद | 

     

    *संयम स्वर्ण महोत्सव  के कार्यक्रम की तसवीरें अपलोड करने की विधि* 

     

     

    आप सभी अपने शहर के कार्यक्रम की तसवीरें विवरण के साथ www.Vidyasagar.Guru पर जरूर अपलोड करें |

    हर एंड्राइड मोबाइल पर गूगल अकाउंट होता हैं - उसके बिना प्ले स्टोर नहीं खुलता - आप सभी उसी गूगल अकाउंट से वेबसाइट पर अकाउंट बना सकते हैं 
    अकाउंट बनाने का लिंक https://vidyasagar.guru/register/

    *कुछ मुख्या बातें* 
    १ सेल्फी न भेजे - कार्यक्रम की अच्छी तसवीरें अपलोड करें 
    2 पाँच से दस तसवीरें अपलोड करें - अधिकतम २० तसवीरें अपलोड करें 
    ३ उपहार प्राप्त करने के लिए  तसवीरें अपलोड करने की अंतिम तिथि २८ जुलाई २०१८ 
    ४. पहले अपलोड करो -पहले पाओं के आधार पर मिलेगा उपहार 
    ५.  पहले ५० विवरण दाताओं को मिलेंगे निश्चित उपहार, 100 से अधिक शहर की सुचना प्राप्त होने पर  १० उपहार  लक्की ड्रा द्वारा भी निकाले जायेंगे |
    ६ यह उपहार समाज को नहीं अपितु उस व्यक्ति को प्रोत्साहन रूप में दिया जायेगा जो फोटो अपलोड करना सीखेगा 
    ७ एक ही कार्यक्रम की 2 एंट्री मिलने पर प्रथम सुचना देने वाले को ही उपहार मिलेगा 
    ८  अपनी प्रोफाइल में मोबाइल न. अपडेट करदे, ताकि आपको उपहार के लिए संपर्क किया जा सके  


    *हमारा उद्देश्य* 
    संयम स्वर्ण महोत्सव की एक अद्भुत समारिका बने जो एक एतिहासिक संकलन के रूप में प्रकाशित हो |

  5. आचार्य विद्यासागर चिंतन यात्रा प्रतियोगिता


    आचार्य विद्यासागर चिंतन यात्रा प्रतियोगिता

    कुल २० प्रश्न , समय ३० मिनिट 

     

    पहले स्वाध्याय करें 

     

     

     


     

  6. ? *जय जिनेन्द्र बन्धुओं? 

     * आचार्य श्री 108* *विद्यासागर सागर जी मुनिराज के मुख्य सामाजिक एवं प्राकृतिक दायित्व निर्वहन * कार्यक्रम के अन्तर्गत   एवं * उनके आशीर्वाद एवं प्रेरणा से एक वृहत वृक्षारोपण के कार्यक्रम का आयोजन आगामी शनिवार दिनांक 14-07-2018 को प्रातः 06-30 बजे से, बोन्टा गेट नंबर 05 ( कमला नेहरू रिज) सिविल लाइंस दिल्ली मे अति उत्साह से मनाया जाऐगा। इस कार्यक्रम मे लगभग 1000 की संख्या मे वृक्ष पोध का रोपण किया जाऐगा। 
     हम इस सामाजिक एवं प्राकृतिक कर्तव्य निर्वहण कार्यक्रम मे आपको सपरिवार सादर आमन्त्रित करते हैं। कृप्या सम्मिलित हो कर उत्साह बढाऐं ।*  धन्यवाद।* 

     *प्रेषक एवं विनित 

     सकल दिगम्बर जैन समाज, राजपुर रोड दिल्ली*

    ped.jpg

  7. अंतर्यात्री महापुरुष महाआरती.jpeg

     

    सन्त शिरोमणि गुरुदेव आचार्य श्री108 विद्यासागर जी महाराज की दीक्षा के '50वें "संयम-स्वर्ण महोत्सव" के अंतर्गत मुनि पुंगव श्री 108 सुधा सागर जी महाराज के आशीर्वाद से  व क्षुल्लक श्री 105 धैर्य सागर जी महाराज की प्रेरणा से "संयम-स्वर्ण महोत्सव समिति,जयपुर"(अध्यक्ष) समाज श्रेष्ठी श्री गणेश राणा व (महामन्त्री) समाज भूषण श्री राजेन्द्र के.गोधा के मार्गदर्शन द्वारा आयोजित और "अरिहन्त नाट्य संस्था,जयपुर" द्वारा प्रस्तुत क्षुल्लक श्री 105 धैर्य सागर जी महाराज द्वारा रचित एवम् श्री किरण प्रकाश जैन द्वरा रूपान्तरित आचार्य श्री की जीवनी पर आधारित भव्य लाइट एण्ड साउण्ड नाट्य प्रस्तुति (संसार शिखर से महाशिखर की ओर...एकमहायात्रा)"


    "अन्तर्यात्री-महापुरुष"


    जयपुर शहर में 16 जुलाई को शाम 6.30 बजे सुबोध पब्लिक स्कूल,रामबाग सर्किल पर किया जाएगा। इस  नाटक में जयपुर शहर के 100 से भी अधिक कलाकार अभिनय करते नज़र आयेंगे, नाटक का निर्देशन युवा रंगकर्मी अजय जैन,आशीष गुप्ता कर रहे है व संगीत निर्देशन अवशेष जैन (जबलपुर) का है । देखना ना भूले 16 जुलाई शाम 6.30 बजे,सुबोध पब्लिक स्कूल में भारत के स्वर्णिम जैन इतिहास का सबसे बड़ा नाटक "अन्तर्यात्री-महापुरुष''


    निवेदक
    श्री गणेश राणा
    (अध्यक्ष)
    श्री राजेन्द्र के.गोधा
    (महामंत्री)
    संयम-स्वर्ण महोत्सव समिति,जयपुर
    अजय जैन (मोहनबाड़ी)
    आशीष गुप्ता
    (निर्देशक)
    अरिहन्त नाट्य संस्था,जयपुर
    7615060671

  8. ????17 जुलाई 2018????  
                संयम स्वर्ण महोत्सव
                   समापन समारोह 

    प्रातः कालीन कार्यक्रम:-

    • *प्रभात फेरी /जुलूस/रैली 
    • -आ.श्री जी की तस्वीर हो
    • -आ.श्री जी के 50 वर्षों की साधना पर झांकी अथवा  आ.श्री जी के आशीर्वाद से चल रहे प्रकल्प (जैसे हथकरघा ,शिक्षा,भारत और इंडिया आदि)पर झांकी
    • -जुलूस में पुरुष वर्ग सफेद परिधान एवं महिला वर्ग केसरिया साड़ी /सूट
    • -जुलूस में बच्चे भी शामिल हो
    • *ध्वजारोहण /ध्वज वन्दन(ध्वज गीत)
    • *विद्या गुरु विधान /विघ्न हर विद्या सागर विधान, आचार्यश्रीजी  की भव्य पूजन का आयोजन
    • *साधु संत/व्रती /विद्वान द्वारा व्याख्यान आ. श्री जी के जीवन ,चर्या ,तप-त्याग ,साधना पर
    • *वृक्षारोपण-स्वर्णिम संयमोत्सव विद्या तरु मंदिर परिसर में,तीर्थ क्षेत्र आदि पर
    • *मिष्ठान्न वितरण सरकारी दफ्तर ,अनाथालयों में
    • *संयम कीर्ति स्तंभ /अहिंसा द्वार का उद्घघाटन 
    • *जेल में आ.श्री जी की पूजन -आरती ,आचार्य श्री जी तस्वीर भेंट करे
    • *आचार्य श्री जी के कैलेंडर ,तस्वीर भेंट करें सरकारी दफ्तर /विद्यालय /महाविद्यालय में
    • *घरों में दीपक जलाना, रंगोली बनाना , तोरण लगाना , आचार्य श्री जी की फ़ोटो लगाना 
    • * 17 जुलाई को एकासन , उपवास / रसी अथवा रस का त्याग
    • * संयम स्वर्ण महोत्सव - पुरुस्कार  वितरण , छात्रवृत्ति / आर्थिक शिक्षा सहयोग
    • * संयम स्वर्ण महोत्सव के उपलक्ष्य में व्यापारी 5%/10% डिस्काउंट दे अथवा व्यवसाय अवकाश ।
    • *आपके द्वारा आयोजित कार्यक्रम अपने नगर /ग्राम के स्थानीय अखबार ,न्यूज़ चैनल पर दे ।
    • * कार्यक्रम की सम्पूर्ण जानकारी ,फोटो  नीचे दी हुई आई डी पर विवरण के साथ मेल करे ताकि संयम स्वर्ण महोत्सव में प्रकाशित होने वाली स्मारिका में शामिल हो सके।
    • Mahotsav.1718@gmail.com

     

    दोपहर--

    * आचार्य श्री जी विधान
    * सांस्कृतिक कार्यक्रम - ( महिलाएँ / बच्चे )
    - रंगोली प्रतियोगिता
    - हाइकू प्रतियोगिता
    - चित्रकला प्रतियोगिता
    - गुरु भक्ति शतक बुलावा
    - भजन प्रतियोगिता ( आचार्य श्री जी पर )
    - प्रश्नोत्तरी
    - आचार्य श्री जी पर ध्यान / जाप

     

    रात्रि कालीन --

    * महा आरती ठीक रात्रि -8:30( आचार्य श्री जी की )
    वेश भूषा -पुरुष वर्ग -सफेद
                  महिला वर्ग- केशरिया
    * नाटक - विद्याधर से विद्यासागर
    *फ़िल्म-अपराजेय साधक 20 मिनट
       (You tube से प्राप्त करें)
    * कवि सम्मेलन / भजन संध्या


    कृपया इस संदेश को जन जन तक पहुंचाए।
     पीडीएफ .

     

    • Like 1
  9.  

    jev daya varsh.jpg

     

    आ गई वो घडी,उलटी गिनती शुरु। एक सपना था संयम स्वर्ण महोत्सब मनाने का,गुरुजी का आशिर्वाद मिला और मन खुशी से झुम उठा। 5 जुलाई को हम सब मिल गुरुवर का जयकारा लगाएगे कि सुन हमारी पुकार ,गुरु जी चरण या गुरुजी की छाया को मुम्बई मे आना होगा। और वो हम करके दिखलाएँगे।हम प्रतिदिन प्रगतिशील समाज मे देख रहे है कि उन्नति तो कर ली किन्तु हर समाज मे उसके नुकसान देखने को मिलते।अहंकार जब हावी होता तब व्यक्ति सब मर्यादा भुल, सप्त व्यसनो मे लिप्त हो परिवार बरबाद कर देता।

    आओ आज देखे अहंकार के दुष्परिणाम और हमारी प्रस्तुति ......

    1. OLX  PAR BECH DE 
    2. “अहंकार का दहन"
    3. तारक मेहता का उल्टा चश्मा के सेलेब्रिटी संग।।
    4. उच्च पद पर कार्यरत जैन बंधुओं का सत्कार
    5. जीव दया का प्रण लेते हुए चमड़े की वस्तु का त्याग कराने फॉर्म का विमोचन 

    दिनांक -5 जुलाई 2018 को 
    समय-दोपहर 2 बजे से 5 बजे 
    स्थान-मैसूर असोसीएशन ऑडिटोरियम, भाऊदाजी रोड, माटुंगा

     

    Mysore Association Auditorium
    393, Bhaudaji Rd, Matunga, Mumbai, Maharashtra 400019
    022 2402 4647
    https://goo.gl/maps/WQ5prt3Zeqm

    • Like 1
  10. परमपूज्य संतशिरोमणि आचार्यश्री 108 विद्यासागरजी महाराज के ‘संयम स्वर्ण महोत्सव’ की सम्पूर्ति पर ‘चौरंगी परिवार एवं सम्यक्त्ववद्धिनी’ द्वारा पूज्य गुरूदेव के श्रीचरणों में समर्पित एक भव्य लघु नाटिका प्रस्तुति- ‘अणुव्रत का संस्कार-जीवन का श्रृंगार’- देखिए, ‘कला मंदिर प्रेक्षागृह, कोलकाता’ से इस भव्य कार्यक्रम का भव्य प्रसारण- (आज) रविवार, 1 जुलाई 2018, प्रातः 10ः00 बजे, सिर्फ़ पारस चैनल पर।

  11. संयम स्वर्ण महोत्सव के उपलक्ष्य में एक विशेष उद्देश्य लेकर चले थे कि कुछ ऐसा कार्य करना है जो आचार्य श्री के महान व्यक्तित्व एवम चरित्र को सबके सामने प्रभावी ढंग से प्रस्तुत किया जाय ,युवा पीढ़ी समझ सके कि मुनि का जीवन क्या है व आज के युग में एक संत कैसे चतुर्थ कालीन चर्या का सफल निर्वाह कर रहे है। साथ ही साथ आचार्य श्री की जीवन गाथा को अजर अमर बनाना है।जिससे आगे आने वाली पीढियां भी उससे प्रेरणा ले सके। यह एक बहुत कठिन कार्य था । आचार्य श्री का जीवन एक वृतचित्र में समेटना कोई आसान कार्य नहीं था।
    लैंडमार्क फिल्म्स की सुश्री विधि कासलीवाल जिनको वृतचित्र बनाने का अनुभव था और जो फ़िल्म निर्माता निर्देशक भी हैं ने इस कार्य को हाथ में लेने की स्वीकृति दे दी । 3 साल पहले वो कार्य शुरू करने से पहले आचार्य श्री के दर्शन करने गई , ये उनके आचार्य श्री के प्रथम दर्शन थे। दर्शन करते ही वो भाव विहल हो गई  आंखों से अविरल अश्रुधारा बह चली । आचार्य श्री के दर्शन कर उनके aura से वो इतनी प्रभावित हुई कि अपने स्वयं जे साधनों सेफ़िल्म बनाने का निश्चय कर लिया ।


    अब चालू हुआ फ़िल्म पर काम ।सबसे मत्वपूर्ण था सही जानकारी  व रिसर्च। बहुत से ग्रंथों का अध्धयन किया गया, संघ के साधु,क्षुल्लक ब्रह्मचारी,दीदियां आदि पूरा सहयोग कर रही थी।ढाई साल की अथक मेहनत के बाद विद्योदय उस रूप मे आई जिसे आप सब लोगों ने देखा।
    अब इस फ़िल्म को पूरे भारत में प्रदर्शित करने की चुनौती थी। इस कार्य में मेरे साथी श्री नवीनजी पाटनी व प्रकाशजी पाटनी ने अथक प्रयास करके आप सब महानुभावों के सक्रिय सहयोग से इस कार्य को मूर्त रूप दे दिया।


    आप सब साधुवाद के पात्र हैं जिन्होंने हमारे एक निवेदन पर इस कार्य को हाथों हाथ उठाया और अपने अपने शहर में इसे प्रदर्शित करने में दिन रात एक कर डाला। आप लोगों का यह कृत्य आचार्य श्री के प्रति आपका समर्पण एवं भक्ति का द्योतक है।वैसे तो सभी जगह बहुत अच्छा कार्य हुआ मगर विशेष उल्लेख दो शहरों का भोपाल व जयपुर। भोपाल में लगभग दस हज़ार लोगों ने फ़िल्म देखी और विधान सभा में भी प्रदर्शन हुए जो कि सबके लिए गर्व की बात है। जयपुर में 6 जगह एक साथ फ़िल्म का प्रदर्शन किया गया उन का team work वाकई सराहनीय है। आप सब लोगों ने जिस उत्साह से ये कार्य किया ये आप सब का आचार्य श्री के प्रति समर्पण, भक्ति व श्रद्धा को दर्शाता है। आप लोगो  ने वो कार्य किया जिससे आचार्य श्री की छवि युगों युगों तक अमर हो जाएगी।आपको जितना धन्यवाद दें कम है। आपने स्वयं भी पुण्य लाभ लिया और समाज को भी धर्म लाभ करवाया। 
    जिसने भी फ़िल्म को देख प्रशंसा किये बगैर नहीं रह सका। आचार्य श्री का महान व्यक्तित्व, मुनि धर्म का सूक्ष्म वर्णन देखने वालीं को अभिभूत कर गया। युवा वर्ग ने भी देखा और बहुत सराहा।


    एक दो स्थानों पर थोड़ी समस्याएं आयी किन्तु लैंडमार्क फिल्म्स द्वारा उसका समाधान कर दिया गया और फ़िल्म के लगभग 90 शो सफलता पूर्वक हो गए। लैंडमार्क फ़िल्म को बहुत बहुत धनयवाद।


    क्योंकि फ़िल्म का प्रदर्शन सिर्फ 90 स्थानों पर हो पाया इस कारण पूरे भारत से अभी भी हर तरफ से मांग आ रही है। हो सकता है कि इसका पुनः प्रदर्शन 14  -15 ता तक वापस किया जाय। इस की औपचारिक घोषणा शीघ्र की जाएगी।


    अंत मे आप सब को एक बार पुनः धन्यवाद आप लोगों के सक्रिय सहयोग बिना कुछ भी नहीं हो सकता था । आप की भक्ति,श्रद्धा और समर्पण स्तुत्य है। अपन सबका यह प्रयास आचार्य श्री के व्यक्तित्व व कृतित्व को अक्षुण बनाने में अपना एक छोटा सा योगदान अवश्य देगा

    जय जिनेन्द्र
    प्रमोद चंद सोनी
    अजमेर

  12.  

     

     

     

    ?३० जून २०१८, शनिवार?

    आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के ५० वे दीक्षा संयम स्वर्ण महोत्सव के उपलक्ष्य में समस्त पाटनी परिवार (आर के मार्बल्स) द्वारा 

    फव्वारा सर्किल स्थित बड़े धड़े की नसियां, जिला अजमेर, राजस्थान में

    ?६५ फीट ऊँचे कीर्तिस्तम्भ का निर्माण कराया गया है?

    ?इस कीर्तिस्तम्भ का लोकार्पण
    मुनिश्री सुधासागर जी महाराज
    मुनिश्री महासागर जी महाराज
    मुनिश्री निष्कम्पसागर जी महाराज
    क्षुल्लकश्री गंभीरसागर जी महाराज
    क्षुल्लकश्री धैर्यसागर जी महाराज
    के पावन सानिध्य में 
    श्री कंवरीलाल जी पाटनी, श्री अशोक जी पाटनी, श्री सुरेश जी पाटनी, श्री विमल जी पाटनी, एवं समस्त पाटनी परिवार और अन्य गणमान्य श्रावकों द्वारा ३० जून २०१८, शनिवार को किया जाएगा

    ?कीर्तिस्तम्भ की विशेषता?
    यह कीर्तिस्तम्भ आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज की दीक्षाभूमि पर स्थित है
    इस कीर्तिस्तम्भ पर आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के जन्म से लेकर बाल्यकाल, किशोरावस्था, दीक्षा एवं संयम जीवन के अनेक जीवन वृतांत पत्थर में उत्कीर्ण किए गए हैं
    इस कीर्तिस्तम्भ पर आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज द्वारा शिष्यों को दी गई दीक्षा के दृश्यों को भी पत्थर में तराशा गया है
    इस कीर्तिस्तम्भ पर आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज का पूर्ण जीवन परिचय भी तराशकर लिखा गया है 
    यह कीर्तिस्तम्भ मुनिश्री सुधासागर जी महाराज की प्रेरणा और आशीर्वाद से बनाया गया है
    इस कीर्तिस्तम्भ पर अद्वितीय नक्काशी और शिल्पकला का सृजन किया गया है 
    यह कीर्तिस्तम्भ भारत का सबसे ऊँचा कीर्तिस्तम्भ है
    इस कीर्तिस्तम्भ की नींव (फ़ाइल फाउंडेशन) जमीन के नीचे ४५ फीट तक है
    यह कीर्तिस्तम्भ बयाना भरतपुर के बंसी पहाड़पुर के पत्थर (पिंक स्टोन) से बनाया गया है
    इस कीर्तिस्तम्भ के निर्माण में एक वर्ष का समय लगा

    ?आप सभी श्रावक इस कीर्तिस्तम्भ के लोकार्पण के कार्यक्रम में सहभागी होकर पुण्यार्जन करें?

    ???हम समस्त पाटनी परिवार के इस पुण्य कार्य की अनुमोदना करते हैं एवं समस्त पाटनी परिवार को ?जिनशासन संघ? की ओर से शुभकामनाएं और बधाई ???

  13. आज आचार्य श्री विद्यासागर जी महामुनिराज का अंग्रेजी तिथि के हिसाब से दीक्षा दिवश है

     

    17 जुलाई २०१८ को हिंदी तिथि के हिसाब से आचार्य विद्यासागर जी महाराज का ५१ दीक्षा दिवस हैं | और इसी दिन आचार्य श्री की दीक्षा के ५० वर्ष पूर्ण होंगे 

     

    आज ही गुरुणां गुरु श्री ज्ञानसागर जी का हिंदी तिथि के अनुसार दीक्षादिवश है|

    आइये सभी  मिलकर आचार्य श्री को नमोस्तु लिखें |

    • Like 1
  14. आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महामुनिराज के संयम स्वर्ण जयंती के अवसर पर उनके जीवन चरित्र पर बनी फ़िल्म विद्योदय पूरे भारत वर्ष में 50 स्थानों पर एक साथ दिनांक 30-06-2018 वार शनिवार को रिलीज होगी ।
    अलवर में भी इस फिल्म का प्रीमियर शो दिनांक 30-06-2018  को रात्रि 08-00 बजे श्री दिगम्बर जैन पार्श्वनाथ चौबीसी मंदिर, जैन भवन स्कीम न.10 अलवर में होगा । 
    आप सभी से निवेदन हे कि 01 घंटे 40 मिनट की इस फिल्म को देखने के लियें आप अपना स्थान आज ही बुक करें । 
    निवेदक:-
    अशोक कुमार जैन 
    अध्यक्ष, 
    श्री दिगम्बर जैन अग्रवाल पंचायती मंदिर , अलवर

    • Thanks 1
  15.  

    ‼ ?‍?  *"संयम स्वर्ण महोत्सव"*  ?‍?  ‼
                        *के उपलक्ष्य में* 
                        होने जा रहा है ,
    ???????????

              *"भव्य भक्तमर महापाठ का"*
         *??!! महा आयोजन !!??*

                            *?एवं?*

               ????????
             *?"संगीतमय महाआरती"?*   
    ???????????

    ???????????

                       ?‍??‍??‍??‍??‍??‍?
                       ?‍?   *?501?*   ?‍?
                       ?‍??‍??‍??‍??‍??‍?

    *जी हाँ !* 
                 *?501 दीपकों के माध्यम से होगी भव्य मंगल महाआरती !!*

                 *?होगा , मानतुंगाचार्य कृत संकटहरण भक्तामर स्तोत्र का महापाठ !!*

                 *?बीजाक्षरों के उच्चारण से होगा सद्भावनाओं का विकास !!*

                 *?विशिष्ट ऋद्धिमंत्रों द्वारा किया जाएगा दीप प्रज्ज्वलन !!*

    ???????????

    *!! आने वाले प्रत्येक सौभाग्यशाली?को* 
    *मिलेगा दीप प्रज्ज्वलन?का महासौभाग्य !!*

    ???????????

    इसमें होंगे बहुत ही खास संयोग :-

    ?? *30 जून को आचार्य भगवंत का दीक्षा दिवस !*

    ?? *आचार्य भगवंत की दीक्षा को पूर्ण होंगे 50 वर्ष !*

    ?? *अजमेर में होगा भव्य कीर्ति स्तम्भ का उद्घाटन !*

    ?? *और होगा अतिशयकारी पार्श्वनाथ भगवान के सादर चरणों मे भक्तमर महापाठ !*


    *?स्थान :- श्री पार्श्वनाथ दिग. जैन मंदिर , जवरी बाग़ नसिया जी , इंदौर (म.प्र.)* ?‍?

    *?दिनाँक :- 30 जून 2018 शनिबार * ?‍?

    *समय :- शाम 8 बजे से* ?‍?

    ???????????

    *!! आईए , आपको सौभाग्य बुला रहा है !!*

    ???????????

     

    utsav2.jpg

  16. chaturmaas.jpg

     

    आप सभी अपना अनुमान नीचे लिखें

    और हा यह भी लिखे की १७ जुलाई का कार्यक्रम कहा पर हो सकता हैं 

    हमे हैं इंतज़ार आपकी विशेष टिपण्णी का 

     

  17. ganj.jpg

     

     

     

     

     

     

    ? चलो चलो "विद्योदय" देखने चले ?

    ना कोई कारण ना कोई बहाना
    विद्योदय देखने जरूर जरूर आना

    आध्यत्म सरोवर के राजहंस , बुंदेलखंड़ के छोटे बाबा , संत शिरोमणि आचार्यश्री 108 विद्यासागर जी महामुनिराज के  संयम स्वर्ण महोत्सव के अवसर पर, उनकी "संयम यात्रा" पर आधारित एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म "विद्योदय" बनाई गयी है
     
                        जिसमे बॉलीवुड के प्रसिद्ध अभिनेता एवं संगीतकारों ने काम किया है फ़िल्म अभी सेंसर बोर्ड के पास रिव्यु के लिए पेंडिंग है

    30 जून 2018 को आचार्य श्री की दीक्षा के 50 साल (दीक्षा दिवस : 30 जून 1968) पूरे होने के उपलक्ष्य में सम्पूर्ण भारत में 50  से अधिक स्थानो पर यह फिल्म offline एक साथ रिलीज की जा रही हैं

    ?????? गंज बासौदा नगर को भी यह सौभाग्य प्राप्त हुआ है।

    आप सभी इस फ़िल्म को जरूर देखें और इस मैसेज को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचाये। हम आचार्य श्री के प्रति अपनी भक्ति प्रकट कर सकते है।
     
    सही समय पर आकर अपना स्थान सुनिश्चित करें

    समय-सांयकाल 7:30 से प्रारंभ
    स्थान: भगवान महावीर विहार, महावीर मार्ग,मील रोड
    गंज बासौदा


    निवेदक:- 
    सकल जैन समाज गंज बासौदा
    संपर्क- अमन 7000963297 
         आयुष 9424456868

  18. अब मप्र विधानसभा में विद्योदय दिखाई जाएगी

    परम पूज्य आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के जीवन दर्शन पर आधारित फिल्म विद्योदय का प्रदर्शन अब भोपाल में 30 जून और 1 जुलाई को दो दिन होगा।

    30 जून 2018, शनिवार
    स्थान : अल्पना सिनेप्लेक्स हमीदिया रोड़ भोपाल
    समय : पहला शो सुबह 7.30 बजे.... दूसरा शो सुबह 9.30 बजे से

    1 जुलाई 2018, रविवार
    स्थान : मप्र विधानसभा परिसर अरेरा हिल्स भोपाल
    समय : शाम 7.30 बजे

    - टाॅकिज के लिए टिकट पहले से प्राप्त कर लें। 

    - विधानसभा के प्रवेश पत्र जैन मंदिर प्रोफेसर कालोनी भोपाल से सुबह 8 बजे से रात्रि 8 बजे तक प्राप्त कर सकते हैं।

    - हमारा उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को फिल्म दिखाना है।

    सादर

    मनोहर लाल टोंग्या 9425011360
    नरेन्द्र वंदना 9893108515
    रवीन्द्र जैन पत्रकार 9425401800
    मनोज जैन एमके 9425018270
    पदमकुमार सेठी 9425023971

    भोपाल.jpg

  19. भारत का प्रत्येक तीर्थ हो हरा-भरा

    परमपूज्य आचार्यश्री 108 विद्यासागर जी महा मुनिराज की मुनि दीक्षा के

    स्वर्ण जयंती वर्ष

    में आयोजित

    संयम स्वर्ण महोत्सव

    के अंतर्गत

    विद्या तरु/विद्या-वाटिकावृक्षारोपण अभियान

     

    अपील

    राष्ट्रीय संयम स्वर्ण महोत्सव समिति भारत के समस्त तीर्थ क्षेत्रों, मंदिरों, धर्मशालाओं और संस्थानों के न्यासियों एवं पदाधिकारियों से अनुरोध करती है कि जुलाई 2018 के इस महीने में अपने आसपास के तीर्थ क्षेत्रों, मंदिरों, धर्मशालाओं और जैन संस्थानों के परिसरों में वृक्षारोपण का कार्यक्रम आयोजित करें ताकि हम परमपूज्य आचार्यश्री 108 विद्यासागर जी महा मुनिराज की मुनि दीक्षा के स्वर्ण जयंती वर्ष को एक स्थायी स्मृति प्रदान कर सकें और भारत भर के तीर्थ स्थलों को हरियाली से आच्छादित करने में सहयोग प्रदान करें.

     

    इन तीर्थों पर पूज्य साधु-संतों का निरंतर आगमन होता रहता है इसलिए यहां पर प्राकृतिक वातावरण और सुरम्य वन आदि का होना अत्यंत आवश्यक है ताकि हमारे गुरु भगवंतों की साधना निरंतर चलती रहे, हम सभी श्रावकों का परम कर्तव्य है कि अपने गुरुओं की वैय्यावृत्ति के इस परोक्ष कार्य में अपनी क्षमता के अनुरूप तन-मन-धन से सहयोग प्रदान करें। यदि हम देश के 500 तीर्थ क्षेत्रों, मंदिरों आदि में भी इस महत्वपूर्ण कार्य को कर सके तो आने वाले 5 वर्षों में ये स्थान तीर्थयात्रियों के आकर्षण का केंद्र बन जाएँगे.

     

    देशभर में वर्षा आरंभ हो चुकी है और यही वृक्षारोपण का सही समय है। अतः आप से विनम्र प्रार्थना है कि स्थानीय वन विभाग से सहयोग लेकर वृक्षारोपण का कार्यक्रम आयोजित करें और तीर्थ स्थलों पर पधारने वाले तीर्थ यात्रियों के लिए वृक्षारोपण ध्रौव्य  फंड स्थापित करें ताकि लगाये गए पौधों का वर्षभर संरक्षण और देखभाल हो सके.

     

    आपके नगर जिले शहर अथवा गांव के सरपंच जिला अध्यक्ष कलेक्टर विधायक पार्षद अथवा सांसद को इस कार्यक्रम में अवश्य आमंत्रित करें और पर्यावरण के प्रति अपनी जागरुकता का परिचय दें। 

     

    जहाँ –जहाँ के संपर्क हमारे पास  हैं, हमारी टीम के सदस्य तीर्थ क्षेत्रों, मंदिरों, धर्मशालाओं और संस्थानों के न्यासियों एवं पदाधिकारियों से व्यक्तिगत अनुरोध कर रहे हैं, आप इस अपील को व्हाट्सएप, ट्विटर, फेसबुक आदि पर साझा करें और इस अभियान की सफलता हेतु सहयोग दें. 

     

    अशोक पाटनी

     

    गौरव अध्यक्ष

    *राष्ट्रीय स्वयं स्वर्ण महोत्सव समिति*

    अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट देखें www.vidyasagar.guru 

     

    पहले चरण में प्रमुख तीर्थ क्षेत्र एवं गोशालाएँ जहां वृक्षारोपण होना चाहिए:

    1.        सम्मेद शिखर जी

    2.       तिजारा जी

    3.       कुंडलपुर

    4.       बीना बारह

    5.       नेमावर

    6.       विदिशा

    7.        विद्यासागर तपोवन गुजरात

    8.       महावीर जी

    9.       थूबोनजी

    10.    बनेडिया जी

    11.     रामटेक

    12.    चंद्रगिरि,

    13.    तिलवारा,

    14.    आहार जी,

    15.    पपोरा जी,

    16.    नैनागिरि,

    17.     देवगढ़ (ललितपुर),

    18.    नारेली,

    19.    रतौना सागर,

    20.   बंडा,

    21.    बहोरीबंद,

    22.   कटनी गोशाला,

    23.   टीकमगढ़ गोशाला,

    24.   खनियाधाना,

    25.   गोम्मटगिरि (इंदौर)।

    26.   बावनगजा

    27.    दक्षिण के तीर्थ

     

    समय रहते सभी जैन तीर्थ क्षेत्रों को हरियाली की चादर से ढँकने की महती आवश्यकता हैवहाँ अध्यात्म के साथ साथ सुरम्य वातावरण निर्मित होग्रीष्मकाल में तापमान कम रहे और शीतलता बनी रहे।

     

     

    सामान्य अनुदेश:

    १.     पहले दो वर्षों में हर वृक्ष के लिए नियमित पानी देने का प्रबंध करें।

    २.     हर वृक्ष अथवा पूरी क्यारी के लिए बाड़/फेंसिंग/जाली अवश्य लगवाएं।  उस पर " संयम स्वर्ण महोत्सव वर्ष २०१७-१८ के अंतर्गत विद्या तरु/विद्या-वाटिका” वृक्षारोपण अभियान, पुण्यार्जक के नाम का नामपट्ट लगवा दें. बैनर-शिलापट का प्ररूप संलग्न है।

    ३.     कंटीले वृक्ष /फल तोड़ने पर दूध निकले ऐसे वृक्ष/वास्तु दोष वाले वृक्ष न लगाएँ.

    ४.     प्रत्येक पेड़ की ऊँचाई कम से कम 3 फुट या उससे अधिक होनी चाहिए।

    ५.     तीर्थ क्षेत्र/पर्वत के सभी यात्रा मार्गों/सीढ़ियों के दोनों ओर एवं तीर्थ क्षेत्र पहुँचने के पक्के मुख्य मार्ग पर दोनों ओर कम-से-कम १ से ५ किलोमीटर में पेड़ लगवाएँ।

    ६.     वृक्षारोपण कार्यक्रम के चित्र/वीडियो/समाचार व्हाट्स एप नंबर ७९०९९-९२०१३ पर भेजें अथवा www.vidyasagar.guru के हरित जैन तीर्थ अभियान पृष्ठ पर अपलोड करें अथवा ईमेल पते info@vidyasagar.guru पर भेजें।

     

    संपर्क सूत्र:

    1.      श्री विनोद जी कोयला, चलभाष: 99933-76111

    2.     प्रवीण जैन (सीएस), मुंबई, चलभाष: 75067-35396 ईमेल:cs.praveenjain@gmail.com

    3.     सौरभ जैन, जयपुर ईमेल: jain.saurabh@yahoo.com

     

    विद्या तरु वृक्षारोपण अभियान (3).jpg

    2 (1).jpg

    4.jpg

    5.jpg

    7.jpg

    8.jpg

    • Like 4
×
×
  • Create New...