Jump to content
मेरे गुरुवर... आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज

निर्लिप्त - Detached


Vidyasagar.Guru

332 views

 Share

निर्लिप्त
 चिड़िया जानती है
 तिनके जोड़ना 
 नीड़ बनाना
 और बच्चे की 
 परवरिश करना
 बड़े होकर
 बच्चे बना लेते हैं
 अपना अलग नीड़
 वह सहज
 स्वीकार लेती है
 अकेले रहना
 उसे नहीं होती
 शिकायत
 अपने -पराये किसी से भी
 वह भूल जाती है
 तमाम विपदाएँ
 उसे याद रहता है सदा 
 गीत गाना/चहचहाना
 असीम आकाश में उड़ना 
 और अपना चिड़िया होना !

 

Detached
 The bird knows
 How to gather twigs
 For its nest.It knows
 How to raise its
 Younglings.
 When the younglings
 Grow up
 They make their separate
 Nests.
 The bird does not mind.
 It accepts its aloneness.
 The bird does not complain
 To anybody.
 The bird forgets all the past 
 Moments of crisis.
 It remembers
 Its own songs only.
 It remembers singing;
 And flying in the sky.
 The bird only remembers
 How to be a bird.

 Share

0 Comments


Recommended Comments

There are no comments to display.

Create an account or sign in to comment

You need to be a member in order to leave a comment

Create an account

Sign up for a new account in our community. It's easy!

Register a new account

Sign in

Already have an account? Sign in here.

Sign In Now
  • बने सदस्य वेबसाइट के

    इस वेबसाइट के निशुल्क सदस्य आप गूगल, फेसबुक से लॉग इन कर बन सकते हैं 

    आचार्य श्री विद्यासागर मोबाइल एप्प डाउनलोड करें |

    डाउनलोड करने ले लिए यह लिंक खोले https://vidyasagar.guru/app/ 

×
×
  • Create New...