Jump to content
आचार्य श्री विद्यासागर मोबाइल एप्प डाउनलोड करें | Read more... ×
Sign in to follow this  

Category

दीक्षित आर्यिका

अधिक जानकारी

आर्यिका श्री 105 गुरुमति माता जी जीवन परिचय 

Capture.PNG

  • पूर्व का नाम  :- बाल ब्रह्मचारिणी सुमन जी जैन
  • पिता का नाम :- स्व. श्री प्रभाचंद (चौधरी)
  • माता का नाम :- श्रीमती विमला देवी जी जैन
  • भाई -बहिन के नाम ( जन्म के क्रम से ) :- 1.आपका क्रम, 2.बा ब्र.सतीश (वर्तमान मे ऐ. दया सागर जी ) 3. श्री सुशील 4.श्री सुरेन्द्र
  • जन्म दिनांक/तिथि :- 30-07-1956, संवत 2013 श्रावण वदी 8 सोम
  • दिन/ स्थान*/समय :- खटोरा बंडा (बेलई) जिला - सागर (म.प्र.)
  • शिक्षा ( लौकिक/धार्मिक ) :- एम. ऐ . (अर्थशास्त्र)
  • ब्रह्यचर्यव्रत :-  02-07-1978, श्री दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र नैनागिरी
  • दिनांक/दिन/तिथि/स्थान:-  जी जिला - छतरपुर (म.प्र.)
  • प्रतिमा (कब, कहाँ):-  दस प्रतिमा 1983 (शिखर सम्मेद जी ) |
  • आर्यिका दीक्षा :-  10-02-1987 माघ शुक्ला 12 मंगलवार, वि.सं.
  • दिनांक/दिन/तिथि/स्थान :-  2043, श्री दिगम्बर जैन सिद्धक्षेत्र नैनागिरी जी जिला - छतरपुर (म.प्र.) 
  • दीक्षा गुरु :- आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज 
  • वर्तमान में संघस्स्थ :- संघ प्रमुख
  • विशेष :-  आपकी सीधी आर्यिका दीक्षा हुई, आपके गृहस्त जीवन के भाई ऐलक श्री दयासागर जी  महाराज हैं जो आपके ही गुरु से दीक्षित हैं |
  1. What's new in this club
  2.  
×