Jump to content
मेरे गुरुवर... आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज

आदत - Habit


Vidyasagar.Guru

125 views

 Share

आदत
 चिड़िया का 
 आकाश में 
 ऊँचे उड़ना
 प्रकृति का 
 सहज-सरल
 और उन्मुक्त होना,
 अब हमें प्रेरणा नहीं देता!
 वृक्षों का 
 हवाओं में लहराना
 और फल-फूलों से भरकर
 कृतज्ञता से झुक जाना
 अब हमें आंदोलित नहीं करता !
 किसी का 
 सच्चा होना
 भला और अच्छा होना
 अब हमें चुनौती नहीं देता !
 असल में 
 हमारी आदत नहीं रही
 आदतें बदलने की !

 

Habit
 The bird
 Flying high in the sky,
 And nature
 Vast in its spontaneity,
 No longer
 Inspire us.
 The tree swaying with the wind,
 Bending low with its
 Flower and fruit blessings,
 No longer thrills us.
 We are not impressed also,
 By anyone’s
 Uprightness
 Or honesty.
 I think, we no longer
 Wish to change
 Our set habits.

 Share

0 Comments


Recommended Comments

There are no comments to display.

Create an account or sign in to comment

You need to be a member in order to leave a comment

Create an account

Sign up for a new account in our community. It's easy!

Register a new account

Sign in

Already have an account? Sign in here.

Sign In Now
  • बने सदस्य वेबसाइट के

    इस वेबसाइट के निशुल्क सदस्य आप गूगल, फेसबुक से लॉग इन कर बन सकते हैं 

    आचार्य श्री विद्यासागर मोबाइल एप्प डाउनलोड करें |

    डाउनलोड करने ले लिए यह लिंक खोले https://vidyasagar.guru/app/ 

×
×
  • Create New...